New Jal Shakti Yojana 2021/Jal Jeevan Mission: Very Useful

Spread the love

Jal Shakti Yojana 2021(जल शक्ति अभियान)

आज हमारे देश में जल काफी बड़ी समस्या है बहुत से लोगों को जल की कमी कोई बड़ी समस्या नहीं लगती है लेकिन देश के ऐसे बहुत से राज्य है जहां पर जल की गंभीर समस्या बनी हुई है और आने वाले समय में यह समस्या और भी बड़ी होती जा रही है इसी समस्या को ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार ने एक नई योजना की शुरुआत की है Jal Shakti Yojana केंद्र सरकार ने शुरू किया है जल शक्ति अभियान भी कह सकते हैं |

क्योंकि इसे एक अभियान के तहत चलाया जा रहा है जिससे कि लोगों को जागरूक किया जा सके कि जल है तो कल है इसी को ध्यान में रखते हुए सरकार देश के उन राज्यों को चयनित कर रही है जहां पर पानी की काफी बड़ी समस्या बनी हुई है या फिर आने वाले कुछ सालों में पानी की कमी हो सकती है |

ताकि सरकार जो है इस योजना के तहत काम कर सके और इस पानी की समस्या का समाधान निकाल सके इसके लिए केंद्र सरकार और राज्य सरकार काम कर रही है हम इस पोस्ट के माध्यम से आपको Jal Shakti Yojana (Jal Jeevan Mission) के बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करेंगे जहां पर हम बात करेंगे कि यह योजना किस प्रकार से काम करेगी और इससे आम लोगों को क्या फायदा पहुंचने वाला है जिससे कि आप इस योजना के बारे में और बेहतर तरीके से समझ पाएंगे |

 

सारांश (Summary)

  • योजना का नाम – Jal Shakti Yojana (Jal Jeevan Mission)
  • किसने शुरू कियानरेंद्र मोदी के द्वारा |
  • लाभ किसको मिलेगाभारत के गरीब निवासियों को जिनके यहां पानियों की कमी है | 
  • किसने घोषणा की – गजेंद्र सिंह शेखावत |
  • लक्ष्यइसका लक्ष्य है, भारत के अंदर पानी की कमी को दूर किया जाए और जल संरक्षण किया जाए | 
  • लाभ – भारत के ऐसे राज्यों को जहां पर पानी की कमी है | 
  • श्रेणी – Department Of Drinking Water & Sanitation Ministry of Jal Shakti.
  • Official Website – ejalshakti.gov.in

 

लेकिन इससे पहले कि हम Jal Shakti Yojana (Jal Jeevan Mission) के बारे में जानकारी देना शुरू करें हम आपको यह भी बताना चाहेंगे कि अगर आप हमारी तरफ से पहली बार आए तो आपकी जानकारी के लिए बता दें कि हम इस वेबसाइट के माध्यम से केंद्र सरकार और राज्य सरकारों के द्वारा चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी देते हैं |

Jal Shakti Yojana 2021

जलसंचय पर माननीय प्रधान मंत्री की प्रेरणा से प्रेरित होकर, जल शक्ति अभियान (JSA) एक समयबद्ध, मिशन-मोड जल संरक्षण अभियान है JSA दो चरणों में चलेगा: चरण 1 से 1 जुलाई से 15 सितंबर 2019 तक सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के लिए और चरण 2 से 30 अक्टूबर 2019 तक राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के लिए मानसून (आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, पुडुचेरी और तमिलनाडु) प्राप्त कर रहे हैं।

Jal Shakti Yojana 2021

अभियान (Jal Jeevan Mission) के दौरान, भारत सरकार के अधिकारी, भूजल विशेषज्ञ और वैज्ञानिक भारत के सबसे जल-तनाव वाले जिलों में राज्य और जिला अधिकारियों के साथ मिलकर * जल संरक्षण और जल संसाधन प्रबंधन के लिए पांच लक्षित हस्तक्षेप के त्वरित कार्यान्वयन पर ध्यान केंद्रित करके काम करेंगे। जेएसए का उद्देश्य संपत्ति संरक्षण और व्यापक संचार के माध्यम से जल संरक्षण को जन आंदोलन बनाना है।

जल जीवन मिशन (Jal Jeevan Mission), ग्रामीण भारत के सभी घरों में 2024 तक व्यक्तिगत घरेलू नल कनेक्शन के माध्यम से सुरक्षित और पर्याप्त पेयजल उपलब्ध कराने के लिए लागू किया गया है कार्यक्रम अनिवार्य तत्वों के रूप में स्रोत स्थिरता उपायों को भी लागू करेगा |

जैसे कि पुनर्भरण और पुन: उपयोग, ग्रे वाटर मैनेजमेंट, जल संरक्षण, वर्षा जल संचयन। जल जीवन मिशन पानी के लिए एक सामुदायिक दृष्टिकोण पर आधारित होगा और इसमें मिशन के प्रमुख घटक के रूप में व्यापक सूचना, शिक्षा और संचार शामिल होंगे। JJM पानी के लिए एक जनोलन बनाता है जिससे यह हर किसी की प्राथमिकता है।

 

Jal Shakti Yojana का कार्यकाल

Jal Shakti Yojana  का कार्यकाल अगले 5 सालों तक के लिए रखा गया है | जिसमें मंत्री जी ने यह घोषणा की है कि इस योजना को सफल बनाने में लगभग 5 से 7 साल का समय लग सकता है पर फिर भी हम इसको 5 सालों के अंदर पूरा करने की पूरी कोशिश करेंगे | इसके जरिए हर घर में पानी की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी | जिसके चलते लोगों को अब पानी से परेशान होने की जरूरत नहीं है | और ना ही उन्हें पानी के लिए कहीं दूर जाकर रहने की जरूरत है |

 

Jal Shakti Yojana मैं आने वाली समस्याएं?

  • Jal Shakti Yojana  के अंतर्गत कई तरह की समस्याएं आ सकती है जैसे कि अरे भारत के अंदर 50% जो पानी है वह किसी कार्य के लिए इस्तेमाल किया जाता है |  और एक रिपोर्ट के अनुसार यह कहा गया है कि 100 मिलियन लोग ऐसे हैं जिनके पास पीने के लिए शुद्ध पानी नहीं है | तो अगले 5 वर्षों में सरकार पीने योग्य पानी की सप्लाई कैसे करेगी | तो, यह एक चिंता का विषय बना हुआ है |
  • Jal Shakti Yojana के अंदर लोगों का आगे आना काफी महत्वपूर्ण योगदान देगा, क्योंकि एक अकेली सरकार इस जल शक्ति योजना को सफल नहीं बना पाएगी इसके लिए भारत के सभी राज्यों को और राज्यों में रहने वाले लोगों को आगे आना होगा और सरकार की मदद करनी होगी |
  • Jal Shakti Yojana 2021 मैं अगर सुधार आना चाहिए तो यह एक मुश्किल योजना साबित होगी |  क्योंकि, यह बात सभी अच्छी तरीके से जानते हैं कि पीने योग्य पानी भारत में बहुत कम मात्रा में उपलब्ध है | और जो भी पानी बचा हुआ है वह पीने योग्य नहीं है | कहा जाता है कि 4 लीटर पानी को साफ करके 1 लीटर पीने योग्य पानी बनता है | तो आप इससे अंदाजा लगा लीजिए कि जब पीने योग्य पानी के लिए 4 गुना ज्यादा पानी बर्बाद होगा तो सरकार इस योजना को सफल कैसे बना पाएगी |
  • योजना को सफल बनाने के लिए सरकार तो तैयार है लेकिन इस योजना में शामिल होने के लिए उद्योगपतियों से कॉन्ट्रैक्ट साइन करवाना थोड़ा मुश्किल होता जा रहा है | क्योंकि उद्योगपति भी यह जानते हैं कि इस जल शक्ति योजना में काफी ज्यादा मुश्किलें आ सकती हैं, और उन्हें इसका खामियाजा भी भुगतना पड़ सकता है | इसी बात को ध्यान में रखते हुए कोई भी उद्योगपति इस योजना में आगे नहीं आ रहा है |

Jal Shakti Yojana

इस Jal Shakti Yojana का उद्देश्य 

  • राज्यों / केंद्र शासित प्रदेशों ने हर ग्रामीण घरेलू और सार्वजनिक संस्थान, अर्थात् के लिए दीर्घकालिक आधार पर पीने के पानी की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए भागीदारी ग्रामीण जल आपूर्ति रणनीति की योजना बनाई है। जीपी भवन, स्कूल, आंगनबाड़ी केंद्र, स्वास्थ्य केंद्र, कल्याण केंद्र आदि।
  • राज्यों / केंद्रशासित प्रदेशों में पानी की आपूर्ति के बुनियादी ढांचे के निर्माण के लिए ताकि 2024 तक हर ग्रामीण घर में कार्यात्मक नल कनेक्शन (एफएचटीसी) हो और निर्धारित मात्रा में पर्याप्त मात्रा में पानी नियमित रूप से उपलब्ध हो सके।
  • राज्यों / केंद्रशासित प्रदेशों को उनकी पेयजल सुरक्षा के लिए योजना बनाना
    जीपी / ग्रामीण समुदायों को अपने स्वयं के गांव में पानी की आपूर्ति प्रणालियों की योजना, कार्यान्वयन, प्रबंधन, खुद को संचालित करने और बनाए रखने के लिए
    उपयोगिता दृष्टिकोण को बढ़ावा देकर क्षेत्र के सेवा वितरण और वित्तीय स्थिरता पर ध्यान केंद्रित करने वाले मजबूत संस्थानों को विकसित करने के लिए राज्य / संघ राज्य क्षेत्र
  • हितधारकों के क्षमता निर्माण और जीवन की गुणवत्ता में सुधार के लिए पानी के महत्व पर समुदाय में जागरूकता पैदा करना
  • मिशन के कार्यान्वयन के लिए राज्यों / संघ राज्य क्षेत्रों को वित्तीय सहायता का प्रावधान और जुटाना।

 

इस Jal Shakti Yojana की विशेषता 

  • प्रत्येक ग्रामीण परिवार को FHTC प्रदान करना।
  • गुणवत्ता वाले क्षेत्रों में एफएचटीसी के प्रावधान को प्राथमिकता देने के लिए, सूखा प्रवण और रेगिस्तानी क्षेत्रों में गाँव, संसद आदर्श ग्राम योजना (एसएजीवाई) गाँव इत्यादि।
  • स्कूलों, आंगनवाड़ी केंद्रों, जीपी भवनों, स्वास्थ्य केंद्रों, कल्याण केंद्रों और सामुदायिक भवनों को कार्यात्मक नल कनेक्शन प्रदान करना
  • नल कनेक्शन की कार्यक्षमता की निगरानी करने के लिए।
  • नकद, प्रकार और / या श्रम और स्वैच्छिक श्रम (श्रमदान) में योगदान के माध्यम से स्थानीय समुदाय के बीच स्वैच्छिक स्वामित्व को बढ़ावा देना और सुनिश्चित करना
  • जल आपूर्ति प्रणाली, अर्थात् जल स्रोत, जल आपूर्ति के बुनियादी ढांचे और नियमित ओ एंड एम के लिए निधियों की स्थिरता सुनिश्चित करने में सहायता करना
  • इस क्षेत्र में मानव संसाधन को सशक्त और विकसित करने के लिए कि निर्माण, नलसाजी, विद्युत, जल गुणवत्ता प्रबंधन, जल उपचार, जलग्रहण संरक्षण, ओएंडएम इत्यादि की माँगों का ध्यान रखा जाता है।
  • विभिन्न पहलुओं पर जागरूकता लाने और सुरक्षित पेयजल के महत्व और हितधारकों की भागीदारी के तरीके से जो पानी को हर किसी का व्यवसाय बनाते हैं |

 

Jal Shakti Abhiyan Scheme (जल शक्ति अभियान)

Jal Shakti Abhiyan Scheme एक ऐसी स्कीम है जो कि हमारे भारत देश की अर्थव्यवस्था को भी सुधार सकती है | क्योंकि, सबसे बड़ी जो समस्या है वह पानी से ही शुरू होती है | अगर हमारे देश में पानी ही नहीं होगा इसका इस्तेमाल यहां के लोग पीने के लिए कर सकें तो फिर कितनी भी अच्छी योजना क्यों ना हो हमारा देश की अर्थव्यवस्था हमेशा ही खराब स्थिति में रहेगी | 

Jal Shakti Abhiyan Scheme (जल शक्ति अभियान) मैं बहुत सारी चीजें सही हो जाएंगी जैसे कि पानी की समस्या खत्म हो जाएगी किसको दिया जा सके, किसी को भी स्वच्छ पानी पीने के लिए पानी की बोतले नहीं खरीदनी पड़ेगी, हर किसी को पानी लाने के लिए किसी दूसरी जगह पर नहीं जाना पड़ेगा,  जैसे कि को पर, या दूर किसी नलों पर, या फिर दूर किसी के घर पर, आदि | 

 

Jal Shakti Abhiyan से जुड़े संस्थान

Jal Shakti Abhiyan 2021 से कई सारी संस्थानों को जोड़ने की आवश्यकता है |और कई सारी संस्थान खुद ब खुद इस योजना से जुड़ना चाहती हैं क्योंकि वह अच्छी तरीके से जानते हैं कि पानी हमारे देश के लिए कितना ज्यादा महत्वपूर्ण है | केंद्र और राज्य सरकार को इस जल शक्ति योजना को हमारे पूरे समाज में इस तरीके से फैलाना होगा कि हर आदमी चल सकती योजना में अपना सहयोग करें |

Jal Shakti Yojana 2021 की जानकारी के लिए विद्यालयों को भी इस योजना में जोड़ा जा रहा है, और कॉलेजों को भी जोड़ा जा रहा है उसमें छात्रों को यह बताया जा रहा है | कि, पानी एक बहुत बड़ी समस्या है भारत देश के लिए तो हमें साथ मिलकर इस जल शक्ति अभियान को सफल बनाना है | 

तो सरकार कुछ इस तरह कदम पूरे भारत देश में ला रही है, तरह-तरह की कार्यक्रम किए जा रहे हैं, और साथ ही साथ जैसे कि कुछ पर्यावरण केंद्र और एनजीओ भी सरकार की मदद के लिए आगे आ रहे हैं | और सरकार को हमारे देश में आईआईटी के इंजीनियर के अनुभवों की भी बहुत ज्यादा जरूरत है | क्योंकि, वह जल संरक्षण के लिए अपने दिमाग का इस्तेमाल कर सकते हैं | और, सरकार को सही दिशा दे सकते हैं | 

हमारे भारत के अंदर और भी कई तरह के संस्थान हैं, और ग्रुप से जैसे कि एनसीसी नेशनल कैडेट कॉर्प्स, नेहरू युवा केंद्र संगठन तो कुछ इन जैसे संस्थान भी भारत का सपोर्ट करने के लिए आगे आ रहे हैं | ताकि, सब मिलकर जल शक्ति अभियान को सफल बनाया जा सके 2024 तक |

Jal Shakti Yojana

Jal Shakti Yojana की देखभाल करने वाले विभाग 

Jal Shakti Abhiyan  के अंदर मंत्री जी ने यह घोषणा की थी कि केंद्र सरकार के 3 विभाग इस जल शक्ति अभियान में मदद करेंगे और सहयोग करेंगे | जय शक्ति योजना 2021 में जल संस्थान विभाग मामले की जटिलता को देखेगा और पर्यावरण विभाग भी इसका सहयोग प्राप्त करेगा और अपने कुछ बातें बताएगा ताकि इस जन शक्ति योजना को सही तरीके से किया जा सके | कृषि मंत्रालय भी इस जल शक्ति अभियान में सहयोग करेगा |

 

Jal Shakti Yojana के बारे में किसानों को शिक्षा 

Jal Shakti Yojana के बारे में किसानों को शिक्षा देने का एक मतलब है कि सरकार यह चाहती है कि जितने भी हमारे देश के किसान भाई हैं| जो कि, भारत के पूरे पानी का 50% लगभग इस्तेमाल करते हैं उन्हें इस योजना के बारे में सही जानकारी प्राप्त हो | 

सभी किसानों को यह बताया जाएगा कि पानी का संरक्षण किस तरीके से आपको करना चाहिए |  ताकि आप 2 साल आना पानी इस्तेमाल करते हो उसमें से अगर थोड़ा-थोड़ा कर कर भी पानी को बचाते हो | तो, वह आपके लिए बहुत ही ज्यादा उपयोगी साबित होगा |  और इस योजना में भी कुछ हद तक सहायता मिलेगी |

 

खराब पानी का उपयोग कैसे करें?

खराब पानी का उपयोग करना है इस जन शक्ति योजना की मुख्य विशेषता है | जन शक्ति योजना के अंतर्गत सरकार यह चाहती है कि सभी लोग जो पानी का उपयोग करते हैं उन्हें संक्रमित पानी का पुनः उपयोग करना चाहिए | इसी चीज को देखते हुए केंद्र और राज्य सरकारें आपस में मिलकर ज्यादा से ज्यादा जल को पुनर्चक्रण मतलब  रीसाइक्लिंग के लिए प्लांट लगाने का काम कर रही है | 

इस तरीके से पानी का उपयोग हम ज्यादा से ज्यादा कर पाएंगे और वह पानी हानिकारक भी नहीं होगा | और सरकार ने यह भी कहा है कि यह पानी शहर और ग्रामीण क्षेत्रों के घरों तक सीधे पाइपलाइन के माध्यम से पहुंचाया जाया करेगा |

 

जल आभार को कम करना

  • भारत एक ऐसा देश है जहां पर जनसंख्या बढ़ती जा रही है, और औद्योगिक क्षेत्र भी काफी तेजी से बढ़ता जा रहा है | जिसके चलते फैक्ट्रियों से निकलने वाले केमिकल सीधा पानी में चले जाते हैं | और उन्हीं केमिकल ओ की वजह से पानी दूषित होता जा रहा है |
  • और अगर हम उसी पानी को साफ करने बैठेंगे तो सरकार का ना जाने कितना पैसा बर्बाद होता चला जाएगा | इस  तरीके से अर्थव्यवस्था तहस-नहस हो जाएगी | भारत में सबसे बड़ी कमी जो है वह है कि, हम बहुत सालों से जो पानी उपलब्ध है उसका एक बार ही इस्तेमाल करते आए हैं |
  • हमें पानी को पुनः उपयोग में लाना होगा | हमें पानी को भी रीसायकल करना होगा और अपने कामों के लिए इस्तेमाल करना होगा | हमें पानी के संरक्षण के लिए कुछ ना कुछ उपाय जरूर करना होगा पर आज तक हमने ऐसा नहीं किया है | हम जो पानी इस्तेमाल करते हैं वह 1 वर्ष धमाल करने के बाद व्यर्थ में चला जाता है |
  • इसलिए जितने भी वैज्ञानिक हैं, और जो पर्यावरण से जुड़े हुए हैं उन लोगों का कहना है| कि, यदि हमने जल्द से जल्द पानी को बचाना शुरू नहीं किया | तो, एक समय ऐसा आएगा जब पानी की कमी हमें बहुत देखने को मिलेगी | जिससे  प्रकृति का नुकसान हो जाएगा | वैज्ञानिकों का कहना है कि, अगर हम पानी को दूषित होने से नहीं बताएंगे | तो, जितने भी प्राकृतिक स्रोत हैं, वह सभी समाप्त हो जाएंगे |
  • इसलिए इस योजना के लिए हम सब को आगे आना चाहिए और पानी को सीरियसली लेना चाहिए | अगर हम पानी का संरक्षण नहीं कर सकते हैं| तो, यह प्रकृति हमसे यह पानी छीन लेगी |

 

CONCLUSION

हमने इस पोस्ट में लगभग आप को संपूर्ण जानकारी प्रदान कर दी है Jal Shakti Yojana 2021 (Jal Jeevan Mission) के बारे में लेकिन इसके अलावा भी अगर आपको अधिक जानकारी चाहिए इससे जुड़ी हुई तो आप सरकार की अधिकारिक वेबसाइट पर भी जा सकते हैं |

Jal Shakti Yojana एक बहुत ही अच्छी योजना है इसलिए, हम सभी को सरकार के साथ इस योजना में सहयोग देना चाहिए | हमें भी पानी का महत्व समझना चाहिए और सरकार के इन अच्छे कदमों को स्वीकार करना चाहिए और इस में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेना चाहिए | यदि अभी भी आपके पास इस Jal Shakti Yojana 2021 से related सवाल है तो, आप Comment में पूछ सकते हैं | 

NOTE: – All information provided on this website is for informative purposes only. Our website/blog is not being responsible.

 

Related Post –

Mukhyamantri Kanya Utthan Yojana

PM Kusum Solar Yojana 2021

Pradhan Mantri Rozgar Yojana

Pradhan Mantri Mudra Yojana 

Pashu Kisan Credit Card Yojana 2021-2022

Krishi Input Anudan Yojana 2021-2022

Mukhyamantri Krishi Ashirwad Yojana 2021-2022

 

FAQ

Jal Shakti Yojana की देखभाल करने वाले विभाग?

Ans – Jal Shakti Abhiyan के अंदर मंत्री जी ने यह घोषणा की थी कि केंद्र सरकार के 3 विभाग इस जल शक्ति अभियान में मदद करेंगे और सहयोग करेंगे | जय शक्ति योजना 2021 में जल संस्थान विभाग मामले की जटिलता को देखेगा और पर्यावरण विभाग भी इसका सहयोग प्राप्त करेगा और अपने कुछ बातें बताएगा ताकि इस जन शक्ति योजना को सही तरीके से किया जा सके | कृषि मंत्रालय भी इस जल शक्ति अभियान में सहयोग करेगा |

खराब पानी का उपयोग कैसे करें?

Ans – खराब पानी का उपयोग करना है इस जन शक्ति योजना की मुख्य विशेषता है | जन शक्ति योजना के अंतर्गत सरकार यह चाहती है कि सभी लोग जो पानी का उपयोग करते हैं उन्हें संक्रमित पानी का पुनः उपयोग करना चाहिए | इसी चीज को देखते हुए केंद्र और राज्य सरकारें आपस में मिलकर ज्यादा से ज्यादा जल को पुनर्चक्रण मतलब  रीसाइक्लिंग के लिए प्लांट लगाने का काम कर रही है | 

इस तरीके से पानी का उपयोग हम ज्यादा से ज्यादा कर पाएंगे और वह पानी हानिकारक भी नहीं होगा | और सरकार ने यह भी कहा है कि यह पानी शहर और ग्रामीण क्षेत्रों के घरों तक सीधे पाइपलाइन के माध्यम से पहुंचाया जाया करेगा |

Jal Shakti Yojana के बारे में किसानों को शिक्षा?

Ans – Jal Shakti Yojana के बारे में किसानों को शिक्षा देने का एक मतलब है कि सरकार यह चाहती है कि जितने भी हमारे देश के किसान भाई हैं| जो कि, भारत के पूरे पानी का 50% लगभग इस्तेमाल करते हैं उन्हें इस योजना के बारे में सही जानकारी प्राप्त हो | 

सभी किसानों को यह बताया जाएगा कि पानी का संरक्षण किस तरीके से आपको करना चाहिए |  ताकि आप 2 साल आना पानी इस्तेमाल करते हो उसमें से अगर थोड़ा-थोड़ा कर कर भी पानी को बचाते हो | तो, वह आपके लिए बहुत ही ज्यादा उपयोगी साबित होगा |  और इस Jal Shakti Yojana में भी कुछ हद तक सहायता मिलेगी |

Jal Shakti Abhiyan Scheme /जल शक्ति अभियान?

Ans – Jal Shakti Abhiyan Scheme एक ऐसी स्कीम है जो कि हमारे भारत देश की अर्थव्यवस्था को भी सुधार सकती है | क्योंकि, सबसे बड़ी जो समस्या है वह पानी से ही शुरू होती है | अगर हमारे देश में पानी ही नहीं होगा इसका इस्तेमाल यहां के लोग पीने के लिए कर सकें तो फिर कितनी भी अच्छी योजना क्यों ना हो हमारा देश की अर्थव्यवस्था हमेशा ही खराब स्थिति में रहेगी | 


Spread the love

Leave a Comment